सिंघाड़े का आटा कैसे बनता है

This post is also available in: English

क्या आपने सोचा है कि सिंघाड़े का आटा कैसे बनता है? अगर नहीं तो।

इस पोस्ट में, मैं आपके साथ घर पर सिंघाड़ा आटा बनाने की विधि साझा करूँगी।

इसे घर पर बनाना बहुत ही आसान है। और यह 100% शुद्ध सिंघाड़े का आटा बिना किसी मिलावट के है।

सिंघाड़े का आटा कैसे बनाते है

सिंघाड़े का आटा क्या है?

सिंघाड़े का आटा सूखे सिंघाडे को पीसकर बनाया जाता है। सिंघाड़ा का आटा बनाने की प्रक्रिया में इसे पहले छीलकर कुछ दिनों के लिए धूप में सुखाया जाता है। फिर इसे ग्राइंडर में पीसकर आटा बना लेंते है।

सिंघाड़े का आटा व्रत में खाया जाता है। हम आमतौर पर सिंघाड़े के आटे की पकोड़ी, सिंघारे की पूरी, सिंघारे का हलवा आदि बनाते हैं या आप सिंघाड़ा और कुट्टू का आटा मिलाकर उसकी पूरी और पकोड़ा बना सकते हैं।

सिंघाड़े को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?

सिंघाड़े को अंग्रेजी में वाटर चेस्टनट (water chestnut) कहा जाता है।

सिंघाड़े के आटा बनाने का वीडियो

सिंघाड़े का आटा कैसे बनाते है

सिंघाड़े का आटा घर पर बनाना सीखें। यह बिना किसी मिलावट के 100% शुद्ध है। आप इसे बिना किसी चिंता के व्रतों में इस्तेमाल कर सकते हैं।
Course Main Course
Cuisine Indian
Keyword सिंघाड़े का आटा कैसे बनाते है
Prep Time 5 minutes
Drying Time 2 days
Total Time 2 days 5 minutes
Servings 1 कटोरी

Ingredients

  • सिंघाड़े

Instructions

  • सिंघाड़े को चाकू की सहायता से छील लीजिये।
  • एक चिप्स स्लाइसर लें और सिंघारे को उसी तरह से स्लाइस करें जैसे हम आलू के चिप्स बनाते समय करते हैं। या आप इसके लिए पीलर का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • हम सिंघारे के स्लाइस इसलिए करते हैं क्योंकि यह जल्दी सूख जाता है।
  • इन्हें एक प्लेट में निकाल लें और करीब 2-3 दिन के लिए धूप में सुखा लें।
  • जब वे सूख जाए। इसे मिक्सर में पीस लें और फिर छानकर इसका बारीक पाउडर बना लें।
  • सिंघाड़े का आटा उपयोग के लिए तैयार है।
  • सूखे सिंघारे को बाद में उपयोग के लिए एक एयर टाइट कंटेनर में स्टोर करें।

सिंघाड़े का आटा कब तक स्टोर कर के रख सकते है?

आप सिंघाड़े के आटे को 6 महीने तक फ्रिज में रख सकते हैं।

सिंघाड़े का आटे को कैसे स्टोर करें?

आपको सिंघाड़े के आटे को एक एयरटाइट कंटेनर में रखना है। और फिर इसे बाद में इस्तेमाल के लिए फ्रिज में रख दें। मैं इस तरह से शाहबलूत का आटा स्टोर करता हूँ।

क्या सिंघाड़े का आटा और कुट्टू का आटा एक ही है?

नहीं, सिंघाड़े का आटा और कुट्टू का आटा अलग-अलग हैं। कुट्टू का आटा एक प्रकार का अनाज से बनाया जाता है जबकि सिंघारा आटा सूखे सिंघारे को पीसकर बनाया जाता है।

कौन सा आटा बेहतर है ?

कुट्टू का आटा और सिंघारा आटा दोनों के अपने-अपने स्वास्थ्य लाभ हैं। कुट्टू का आटा शरीर को गर्माहट प्रदान करता है। जबकि सिंघाड़ा आटा शरीर को ठंडक प्रदान करता है।

सिंघाड़े को अंग्रेजी में क्या कहते हैं?

सिंघाड़े को अंग्रेजी में वाटर चेस्टनट (water chestnut) कहते हैं।

क्या सिंघाड़े का आटा पौष्टिक है?

हाँ, सिंघाड़े का आटा पौष्टिक है। इसमें उच्च गुणवत्ता वाले प्रोटीन, विटामिन ई, विटामिन बी समूह, अमीनो एसिड, फाइबर, पोटेशियम, मैग्नीशियम आदि होते हैं। आप इसके बारे में और अधिक पढ़ सकते हैं।

क्या सिंघारा आटा मधुमेह के लिए अच्छा है?

मधुमेह रोगियों में सिंघाड़ा आटा कम कैलोरी, उच्च फाइबर सामग्री और धीमी पाचन क्षमता के कारण इसे प्रबंधित करने में मदद करता है।

Similar Posts

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Recipe Rating




This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.