Go Back

डोसा बैटर रेसिपी

डोसा और इडली के लिए बैटर बनाने विधि सीखेंगे।
Prep Time20 hrs
Course: Breakfast, Dinner, Lunch, Main Course
Cuisine: South Indian
Keyword: dosa batter
Servings: 4 People

Equipment

  • Blender

Ingredients

  • 3 कप चावल छोटे वाला
  • 1 कप उरद दाल बिना छिलके वाली
  • 1 बड़ा चम्मच मेथी दाना
  • आधा कप पोहा चावल
  • एक कप चना दाल डोसे को क्रिस्पी और सुनहरा बनाने के लिए
  • नमक स्वादानुसार
  • पानी सामग्री को भिगोने और धोने के लिए

Instructions

बैटर बनाने की तैयारी करने के स्टेप्स

  • 3 कप चावल को कटोरे में ले कर अच्छी तरह धो ले।
    चावल को पानी में धोये
  • एक कप उरद दाल और 1 चमच मेथी दाना को कटोरे में लेकर अच्छी तरह धो ले।
    उरद दाल को पानी में धोये
  • चावल को पानी में भिगो दे। और पानी को चावलों से 2 इंच ऊपर रखे।
  • एक दूसरे बर्तन में उरद दाल, पोहा और मेथी दाना को पानी में भिगो दे। और पानी के लेवल को 2 इंच ऊपर रखे।
    चावल और दाल पानी में भीगे हुए
  • इन सभी को 7 -8 घण्टे भिगोए।

डोसा बैटर को मिक्सी में बनाने के स्टेप्स

  • सारा पानी दोनों बर्तनो से निकाल दे।
  • भीगे हुए चवालों को मिक्सी के जार में डाले और पीस ले। और दरदरा पीस ले। बीच में थोड़ा सा पानी डाल ले अगर जरुरत हो तो। और बैटर बिलकुल बारीक भी हो जाता है तो भी वो ठीक है
    चावल मिक्सी में पिस्ता हुआ
  • अब उरद दाल, पोहा और मेथी दाना को मिक्सी में दरदरा पीस ले।
    दाल मिक्सी में पिस्ता हुआ
  • अगर आप की मिक्सी हीट हो जाये तो थोड़ी देर इंतजार करे। और फिर पीसना शुरू करे जब मिक्सी ठण्डी हो जाये। अगर आप के पास सामग्री ज्यादा है तो आपको एक से ज्यादा बार भी पीसना पद सकता है।
  • अब सभी बैटर को एक बड़े बर्तन में डाल ले। ध्यान रखे की बैटर न तो ज्यादा पतला हो ना ही ज्यादा गाढ़ा।
    पिसे हुए दाल और चावल कटोरे मे
  • अब इसमें 1 छोटी चमच नमक डाल के हाथ से या चमच से मिला ले।
    पीसी हुई चावल और दाल को मिलाए
  • इसपर आप प्लेट से ढक दे और 10 -12 घंटो के लिए फरमेंट होने के लिए रख दे। फरमेंट होने का समय मौसम के अनुसार होता है। अगर सर्दी का मौसम हो तो घोल को 16-18 घंटे के लिए रख दें ताकि खमीर उठ जाए।
  • बैटर जब फरमेंट हो जाये तो ये इस्तेमाल करने के लिए तैयार है।
    डोसा बैटर रेसिपी

Video

Notes

  1. डोसा बैटर के लिए एक बड़ा बर्तन ले क्योंकि फरमेंट होने के बाद ये दो गुना से ज्यादा हो जाता है
  2. अगर आप इडली के लिए बैटर बना रहे है तो इसको चमच से ना चलाये। इससे इडली सोफ्ट और फूली हुई नहीं बनेगी। इडली बनाने के लिए बटेर को इडली स्टैण्ड में डाले।